Skip to main content

Posts

Showing posts from November, 2020

मेरी मोड़दी कलाई भजन लिरिक्स | mordi kalai en dya nahi aayi bhajan lyrics

 🥊🥊1⃣1⃣7⃣🥊🥊 मेरी मटकी को कर गयो चूर मैया तेरो बनवारी,  ,मेरी मोड़ दी कलाई , बिन दया कोणी आई,, मेरे मगरा में मारयो डुक डुक डुक,,, 1⃣ गवालीडा ने साथ ले के लफड़ो मचा दियो , दूध दही चुटियो तो माटी में मिला दियो, मासु बोल्यो कोणी जावे, म्हारो हियो भर आवे म्हारे कालजे में उठ रयो,,धक धक धक,,,,,1 💃2⃣ सोवनी सी छांट के में ल्याई थी कुम्हारी से , एक दिन भी कोणी बची ,जुल्मी की मार,से,, क्यामे ल्याऊं पानी मेरी लाडली जिठानी, मेरे पसीनो रयो चुव चुव चुव,,,2 💃3⃣ पानी ङो भरने ही में तो जमुना में आय के पीछे से मारी जुल्मी गिंडी की घुमाय के, कर के जुल्म वो तो कर ग्यो जुल्म भाई मुख से मुरलिया हू हू हूं 🌻4⃣ मेरी मटकी का कर गयो चूर मैया तेरो बनवारी,  मेरी मोड़ दी कलाई , बीने दया कोणी , मेरे मगरा में मारयो डुक डुक डुक,,,  🥀5⃣ होगी थी नचिद में तो,  छींके ऊपर मेल के, कूद के दीवार जुल्मी  आयो गेल गेल ,से , आखरी की बांई आँख बाँध के बिहारी  लॉगयो रे निशानों मेरे अचूक चुक चूक,,, 🌺6⃣ मेरी मटकी का कर गयो चूर मेरी मोड़ दी कलाई ,बीने दया कोणी ,मेरे मगरा में मारयो डुक डुक डुक,,, महाप्रभु।   ✍9929983199📲