Skip to main content

CAA क्या है ?

                          CAA क्या है

                       
CAA क्या है, what is CAA
CAA क्या है।what is CAA
नमस्कार दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम बात करेंगे कि भारत सरकार द्वारा लागू किया गया कानून CAA क्या है, CAA क्यो लागू किया गया, CAA में क्या कमी है, CAA का विरोध क्यों हो रहा है, CAA में कोनसे कोनसे धर्म शामिल किए गए हैं आदि बातो पर पूरे विस्तार से समझेंगे

CAA ki full form kya ha, CAA और CAB में क्या अंतर है
CAA ki full form kya ha, CAA और CAB में kya अंतर है

CAA और CAB में क्या अंतर है

CAA की फुल फॉर्म नागरिकता संशोधन कानून ( Citizenship Amendment Act ) है ये संसद में पास होने से पहले CAB ( Citizenship Amendment Bill) था जो कि राष्ट्रपति के हस्ताक्षर से एक कानून बन गया

CAA kya ha , Caa kya ha , caa ki full form kya ha,
CAA kya ha, caa kya ha, caa ki full forme

CAA क्या है 

CAA ( Citizenship Amendment Act) एक ऐसा कानून है जिससे कि भारत के तीन पड़ोसी देश पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान अल्पसंख्यक लोगो जो की भारत में कई बरसों से रह रहे है उनको नागरिकता मिल सकती हैं इस कानून (Act) के तहत

CAA को लागू क्यों किया गया, CAA ko lagu kyo kiya gya
CAA को लागू क्यों किया गया, CAA ko lagu kyo kiya gya

CAA को क्यो लागू किया गया

CAA ( Citizenship Amendment Act) को इसलिए लागू किया गया है कि भारत के तीन पड़ोसी देश पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से अनेक शरणार्थी भारत में कई सालो से सरण ले रखी है और उन्हें कोई अधिकार नहीं है इससे उन्हें भारत की नागरिकता छ वर्षों देकर वोट डालने का अधिकार दिया जाएगा पहले उन्हें 11 वर्षों तक लगातार भारत में रहने के बाद मिलता था

CAA me kya kami ha, CAA में क्या कमी है
CAA me kya kami ha, CAA में क्या कमी है

CAA में क्या कमी है

पाकिस्तान जो की भारत का दुश्मन देश है उसका कोई भी आतंकवादी अपने आप को पाकिस्तानी अल्पसंख्यक बताकर भारत में आराम करने आ सकता हैं और उन्हें छ साल लगातार भारत में रुकने पर भारत की नागरिकता भी मिल सकती हैं और वो अपने बुरे काम या फिर भारत की जासूसी आराम से कर सकता है ये CAA की कमी है
CAA me konse konse dharm aate ha, CAA में धर्म
CAA me konse konse dharm aate ha, CAA में धर्म

CAA में कोनसे कोनसे धर्म ए आते है

CAA में बांग्लादेश पाकिस्तान और अफानिस्तान के छ धर्मो हिंदू सिख ईसाई जैन पारसी और बौद्ध धर्मो के लोगो को शामिल किया गया है इन्हे नागरिकता तब मिलेगी जब वे 31 दिसंबर 2014 या इससे पहले भारत में प्रवेश किया हो
CAA ka virodh kyo ho raha ha, CAA का विरोध क्यों हो रहा है
CAA ka virodh kyo ho raha ha, CAA का विरोध क्यों हो रहा है

CAA का विरोध क्यों हो रहा है

CAA का विरोध ज्यादातर मुस्लिम समुदाय के लोग कर रहे है क्योंकि उन्हें भर्म हो गया है कि उनकी नागरिकता भारत से छीन ली जाएगी और उन्हें निष्कासित कर दिया जाएगा

तो दोस्तो अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो इसे लाईक करके अन्य को शेयर करे ताकी लोग जागरूक हो

Comments

Popular posts from this blog

मंदोदरी के पिता का क्या नाम था ? पूर्व जन्म की कथा

मंदोदरी के पिता का क्या नाम था

नमस्कार दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम मंदोदरी के पूर्व जन्म की कथा की जानकारी आपको देंगे

 साथ ही मंदोदरी कि कुछ सूक्ष्म जानकारी भी आपको देंगे की मंदोदरी के पिता का क्या नाम था

 तो दोस्तो आज मे हम आपके इन्हीं सवालों के जवाब इस पोस्ट में दूंगा 


मंदोदरी कोन थी :- पुरानी कथाओं के अनुसार बताते है की मंदोदरी एक मेंढकी थी एक समय बात है ! 

सप्तऋषि खीर बना रहे थे उस खीर में एक सर्प गिर गया ये सब मंदोदरी ने देख लिया


 ऋषियों ने नहीं देखा तो मंदोदरी जो कि एक मेंढकी थी वो ऋषियों के देखते देखते उनके खाने से पहले उनकी खीर बना रहे पात्र में गिर गई 


ऋषियों ने ये सब देख लिया तो अब जिस भोजन में अगर मेंढक गिर जाए उसे कोन खाए 


इसलिए उन्होंने उस खीर को फेक दिया जैसे ही उन्होंने खीर को फैका उसमे से मेंढकी के साथ एक सर्प भी निकला 


ऋषियों ने समझ लिया कि इस मेंढकी  ने हमे बचाने के लिए अपने प्राण त्याग दिए उन्होंने मंदोदरी को वापस जीवन दान दिया और एक कन्या का रूप दिया तब से कहा जाता हैं की मंदोदरी सप्तऋषियों की संतान थी


अब मंदोदरी सप्तऋषियों के साथ ही रहने लगी मगर ऋषियों ने  सोचा कि एक कन्य…

युधिष्ठिर को धर्म राज क्यो कहा जाता हैं ?

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि युधिष्ठिर को धर्म राज क्यो कहा जाता हैं क्या इसमें कुछ रहस्य है अगर है तो वो क्या है जिससे कि युधिष्ठिर को धर्म राज की उपाधि मिली 

अगर आपके मन में भी ये सवाल जागा है तो आप सही जगह आ गए हैं में इस पोस्ट हम आज आपके इसी सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे 

दोस्तो युधिष्ठर की धर्मराज उपाधि की कहानी को समझने से पहले हमें यमराज की छोटी सी कहानी को समझना जरूरी है पर आप घबराइए नहीं ये कहानी बिल्कुल सूक्ष्म होगी तो चलिए शुरू करते है


हिंदू धर्म शास्त्रों में यम को मृत्यु का देवता माना गया है। यमलोक के राजा होने के कारण वे यमराज भी कहलाते हैं। यम सूर्य के पुत्र हैं और उनकी माता का नाम संज्ञा है। उनका वाहन भैंसा और संदेशवाहक पक्षी कबूतर, उल्लू और कौवा भी माना जाता है। उनका हथियार गदा है। यमराज अपने हाथ के कालसूत्र या कालपाश रखते हैं, जिससे वे किसी भी जीव के प्राण निकाल लेते हैं। कहते हैं जब जीवित प्राणी का संसार में काम पूरा हो जाता है तो उसके शरीर से प्राण यमराज अपने कालपाश से खींच लेते हैं, ताकि प्राणी फिर नया शरीर व नया जीवन शुरू कर सके। यमपुरी यम…

सूर्पनखा का असली नाम क्या था ! सूर्पनखा के पति का नाम क्या था ! Surpankha

सूर्पनखा का असली नाम क्या था [ surpankha ka asali name kya tha ]
सूर्पनखा के पति का क्या नाम था [ surpankha ke pati ka kya name tha ] 

नमस्कार दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम बात करेंगे कि रावण की बहन सुरपंखा या सूर्पनखा के पति का क्या नाम था और सूर्पनखा का असली नाम क्या था

दोस्तो सूर्पनखा रावण की बहन थी उसका असली नाम सूप नखा था जिसका अर्थ होता है सुंदर नाखूनों वाली 

क्योंकि सूर्पनखा इतनी सुंदर थी कि पुरुष उसके नाखूनों को देखकर ही मोहित हो जाते थे इसलिए उसका नाम सूप नखा पड़ा 


सूर्पनखा के पति का क्या नाम था :- सूर्पनखा के पति का नाम विधुतजिव्ह था जो कि कालकेय नाम के राजा का सेनापति था एक बार कालकेय ओर रावण में युद्ध हो गया और कालकेय की सेना का नेतृत्व जहा विधुतजिव्ह कर रहा था तो दूसरी ओर रावण की सेना का नेतृत्व स्वयं रावण कर रहा था

विधुतजिव्ह के सामने परिस्थिति कठिन थी क्योंकि उसका कर्तव्य बनता था कि अपने राज्य की रक्षा करे मगर ऐसा करता है तो सामने उसका खुद का शाला ही था 

सूर्पनखा ने रावण को समझाया था कि कालकेय की राजधानी पर आक्रमण मत करो मगर रावण अपने राज्य के विस्तार की लालसा में अंधा हो ग…